इस्लाम_मुसलमान_और_बेटियां : क़यामत के दिन जहन्नुम की आग से सिर्फ़ बेटी ही बचा पायेगी

0
169
muslim daughter(ittehad news)
- Advertisement - Niyaaz Ad

 

क़यामत के दिन जहन्नुम की आग से सिर्फ बेटी ही बचा पायेगी वो भी उस हाल में जब तुम…

आईशा रदी अल्लाहू अन्हा से रिवायत है कि रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम ने फ़रमाया जिसकी बेटियाँ हो और वो उनके साथ नेकी करे तो वो क़यामत के दिन जहन्नम से उसकी आड़ (Protection) होंगी. सही मुस्लिम, जिल्द 6, 6693

आईशा रदी अल्लाहू अन्हा से रिवायत है कि एक मिस्कीना (फकीर औरत) मेरे पास आई अपनी 2 बेटियों को लिए हुए मैने उसको 3 खजूरें दी उसने हर एक बेटी को एक एक खजूर दी और तीसरी खजूर खाने के लिए मुँह से लगाई इतने में उसकी बेटियों ने वो खजूर भी माँगी.

उसने उस खजूर के जिसको खुद खाना चाहती थी 2 टुकड़े किए मुझे ये हाल देखकर ताज्जुब हुआ, मैने जो उसने किया था रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम से बयान किया आप सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम ने फरमाया अल्लाह सुबहानहु ने इस वजह से उसके लिए जन्नत वाजिब कर दी या दोज़ख से आज़ाद कर दिया. सही मुस्लिम, 6694

मलिक रदी अल्लाहू अन्हु से रिवायत है की रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम ने फरमाया जो दो बेटियों को पाले उनके जवान होने तक, क़यामत के दिन वो और मैं इस तरह से आएँगे और आप सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम ने अपनी उँगलियों को मिला कर बताया. सही मुस्लिम, जिल्द 6, 6695

Niyaaz Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here